अंगूठे का क्लोन बनाकर लोगों के बैंक खातों से निकाल लेते थे रुपये, 3 ठग गिरफ्तार – Meerut police arrested 3 members of gang who fraudulently cloned the thumb and took money from peoples bank accounts lclt


UP News: मेरठ की हस्तिनापुर थाना पुलिस और साइबर सेल की टीम ने धोखाधड़ी से अंगूठे का क्लोन बनाकर लोगों के खातों से पैसे निकालने वाले गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया है. इस संबंध में 27 अक्टूबर को ब्रहमपुरी के थाने में धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज करवाई गई थी.

शिकायत में बताया गया कि एक गिरोह बैंक से लोन दिलाने के बहाने लोगों से आधार कार्ड, अन्य कागजात और अंगूठे का क्लोन ले लेता है. फिर उसी की मदद से गिरोह के सदस्य लोग लोगों के खाते से पैसे निकाल लेते हैं. अभी तक की जांच में आया है कि यह गिरोह अलग-अलग स्थानों पर 20 से ज्यादा लोगों से ठगी कर चुका है. साइबर सेल और थाना पुलिस आरोपियों की तलाश में थी.

पुलिस ने बताया कि उन्होंने जिन लोगों को गिरफ्तार किया है उनकी पहचान हस्तिनापुर क्षेत्र के गणेश कुमार निवासी एच ब्लॉक भीमनगर, मोहन लाल निवासी प्रभात नगर, हरिओम निवासी प्रभात नगर के रूप में हुई है.

पुलिस पूछताछ में पता चला है कि आरोपी बैंकों से लोन पास कराने के बहाने लोगों का आधार कार्ड लेकर कर कम्प्यूटर के माध्यम से पॉलिमर फिंगर प्रिन्ट क्लोन तैयार कर आधार इनेबल्ड पेमेंट सर्विस के माध्यम से ठगी करते थे. यह गिरोह फिंगर प्रिन्ट क्लोन तैयार कर बैंक खाता से पैसे निकाल लेता था.

हस्तिनापुर में खोला नया ऑफिस
आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने शहर क्षेत्र में ब्रहमपुरी में ठगी की. उसके बाद हस्तिनापुर में नया ऑफिस खोल लिया. इसमें ऑफिस में काम करने वाले दो लोगों को सात-सात हजार रुपए माह के वेतन में नौकरी दी. पिछले पांच माह से यह आरोपी ठगी कर रहे थे. पुलिस ने आरोपियों के पास से व्हाइट पेपर भी बरामद किए हैं, जिन पर अलग अलग लोगों के अंगूठे के निशान मिले हैं.

पुलिस ने बरामद किया सामान
पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के पास से 2 लैपटॉप, 1 सीपीयू, एक प्रिंटर, एक आई रिटेना डिवाइस, 2 फ्रिंगर प्रिंट डिवाइस, अलग-अलग लोगों के आधार कार्ड और ई-श्रम कार्ड, आयुष्मान कार्ड, 4 मोबाइल और अन्य सामान बरामद किए हैं. मामले की जांच अभी जारी है.

 



Source link

Spread the love