गुजरात में चुनाव ड्यूटी से हटाए गए IAS अधिकारी, इंस्टाग्राम पर ‘पब्लिसिटी स्टंट’ करना पड़ा भारी – ECI removes ias officer abhishek singh from election duty as he used Instagram as a publicity stunt ntc


गुजरात के अगामी विधानसभा चुनावों को लेकर सभी राजनीतिक पार्टियां जोर आजमाइश कर रही हैं. वहीं चुनाव आयोग की तरफ से भी तैयारियां की जा रही हैं. इस बीच चुनाव ड्यूटी में लगाए गए एक IAS अधिकारी को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर ‘आत्म-प्रचार’ करना भारी पड़ गया. जिस पर संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने उन्हें तत्काल प्रभाव से ड्यूटी से हटा दिया. आयोग ने तस्वीरों को शेयर करना पब्लिसिटी स्टंट करार दिया है.

दरअसल, यूपी कैडर के आईएएस अधिकारी अभिषेक सिंह को गुजरात चुनाव में अहमदाबाद के बापूनगर और असरवा विधानसभा क्षेत्र के लिए पर्यवेक्षक बनाया गया था. ड्यूटी मिलने के बाद उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपनी तैनाती को बढ़-चढ़कर बताना शुरू कर दिया. चुनाव आयोग के पास उनकी कई पोस्ट के साथ शिकायत पहुंची. जिस पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने अभिषेक सिंह को तुरंत पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया और अगले आदेश तक किसी भी तरह की चुनावी जिम्मेदारी या ड्यूटी पर न लगाने का भी फैसला कर आदेश जारी किया. 

चुनाव आयोग ने बताया पब्लिसिटी स्टंट

चुनाव आयोग ने अपने आदेश में कहा कि अभिषेक सिंह-I (UP:2011) को चुनाव ड्यूटी से हटाया जाता है. उन्होंने अपनी आधिकारिक हैसियत को इंस्टाग्राम पर पब्लिसिटी स्टंट के रूप में इस्तेमाल किया है. इसलिए जनरल ऑब्जर्वर को उनके कर्तव्यों से तत्काल मुक्त कर दिया गया है. उन्हें ऑब्जर्वर और अगले आदेश तक चुनाव संबंधी किसी भी ड्यूटी से डिबार कर दिया गया है.

अधिकारी के इंस्टाग्राम पर 30 लाख से अधिक फॉलोअर्स

आईएएस अधिकारी अभिषेक सिंह सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं. उनके इंस्टाग्राम पर 3 मिलियन यानी 30 लाख से अधिक फॉलोअर्स हैं. उन्होंने गुजरात चुनाव में ड्यूटी मिलने के बाद दो तस्वीरें इंस्टाग्राम पर शेयर की हैं. जिसमें वह अपनी गाड़ी के साथ खड़े हैं और उस पर बीकन और “ऑब्जर्वर” लिखा हुआ है. फोटे के कैप्शन में लिखा है, “गुजरात चुनाव के लिए पर्यवेक्षक के रूप में अहमदाबाद में शामिल हुए.”

दो चरणों में होना है गुजरात चुनाव

गौरतलब है कि गुजरात में दो चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं. पहले चरण का मतदान 1 दिसंबर को और दूसरे चरण का मतदान 5 दिसंबर को होगा. इनके परिणाम 8 दिसंबर को आएंगे. इसके लिए राज्य में जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं. इस बार के चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल सकता है. कारण, इस बार बीजेपी और कांग्रेज के अलावा आम आदमी पार्टी भी पूरी तैयारी के साथ मैदान में उतर रही है.



Source link

Spread the love