दिवाली के दिन निकला दम, दिल्ली में खतरनाक स्तर पर वायु प्रदूषण – air pollution aqi dr karni singh shooting range fire crackers ntc


स्टोरी हाइलाइट्स

  • डॉक्टर कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में 1400 पहुंचा एक्यूआई का स्तर
  • दिल्ली के कई इलाकों में 1000 के इर्द-गिर्द रिकॉर्ड हुआ एक्यूआई

दिल्ली की सरकार ने प्रदूषण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए अपने स्तर से तमाम प्रयास करने के दावे किए. सरकार ने पहले पराली को जलाए जाने से रोकने लिए एक खास किस्म की घोल का छिड़काव कराया. इसके बाद सरकार ने दिल्ली में पटाखों की बिक्री और भंडारण पर प्रतिबंध लगा दिया. दिवाली की रात सरकार के ये सारे प्रयास बेनतीजा नजर आए.

दिल्ली में हवा की गुणवत्ता बहुत ज्यादा खराब हो गई. दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (AQI) सरपट भागता नजर आया. दिल्ली के करीब-करीब हर इलाके में आधी रात आते-आते हवा की गुणवत्ता गंभीर के स्तर को भी पार कर गई. दिल्ली के द्वारका सेक्टर 8 समेत कई इलाकों में 2.5 PM पर AQI का स्तर  1100 के भी पार रिकॉर्ड किया गया है.

दिल्ली के विवेक विहार में भी एक्यूआई का स्तर 1000 को पार कर गया. रात को 11 बजे के बाद डॉक्टर कर्णी सिंह शूटिंग रेंज इलाके में एक्यूआई का स्तर 2.5 पीएम पर 1400 को भी पार कर गया. ऐसा नहीं कि एक्यूआई का स्तर केवल इन चंद इलाकों में ही अधिक रिकॉर्ड हुआ हो. दिल्ली के कई इलाके ऐसे हैं जहां 2.5 पीएम पर एक्यूआई 1000 के करीब रिकॉर्ड हुआ है.

अशोक विहार इलाके में भी करीब 11.30 बजे एक्यूआई का स्तर 1200 के पार रिकॉर्ड किया गया. ओखला फेज-2 में 1300 के पार, जबकि जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम इलाके में एक्यूआई 1000 के करीब रिकॉर्ड किया गया. पंजाबी बाग इलाके में भी हवा की गुणवत्ता गंभीर के स्तर से भी अधिक 800 के करीब रिकॉर्ड हुई.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का ये हाल तब है जब सरकार ने यहां पटाखे बेचने पर प्रतिबंध लगा दिया था. सरकार की ओर से सख्ती के बावजूद दिवाली के दिन लोगों ने जमकर आतिशबाजी की. इससे हवा की गुणवत्ता में गिरावट आती चली गई और रात के 11.30 बजे हवा की गुणवत्ता में जबरदस्त गिरावट देखी गई.

 



Source link

Spread the love