पोलैंड में रूसी मिसाइल गिरने से तनाव की स्थिति, राजदूत को किया तलब, NATO ने बुलाई आपात बैठक – Tension after falling of Russian missile in Poland ambassador summoned NATO convenes emergency meeting ntc


यू्क्रेन पर ताबड़तोड़ 100 मिसाइलें दागने के दौरान रूस की एक मिसाइल पोलैंड में भी जा गिरा. यूक्रेन बॉर्डर से सटे पोलैंड के प्रेजवोडो इलाके के एक गांव में अनाज ले जा रही एक ट्रैक्टर-ट्रॉली पर यह मिसाइल गिरी, जिसकी चपेट में आने से दो लोगों की मौत हो गई है. रूस की हरकत के बाद से पोलैंड, अमेरिका, हंगरी और नाटो हरकत में आ गए हैं.

पोलैंड ने मिसाइल गिरने की पुष्टि करते हुए कहा कि संकट की स्थिति के कारण शीर्ष नेताओं ने एक आपातकालीन बैठक की गई है. इसके बाद पोलैंड सरकार ने रूसी राजदूत को भी तलब कर लिया है. वहीं एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक हंगरी के पीएम ओरबान ने भी रक्षा परिषद की बुलाई की है. 

एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक पोलैंड के राष्ट्रपति एंड्रेज डूडा ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन से फोन पर बात की और घटना की जानकारी दी. इसके अलावा पोलैंड ने नाटो के अनुच्छेद-4 का हवाला देते हुए नाटो की आज एक आपातकालीन बैठक बुला ली है. नाटो के अनुच्छेद-4 के तहत कोई सदस्य देश अपनी सुरक्षा से जुड़े मुद्दे को उठा सकता है. 

नाटो क्षेत्र के एक-एक इंच की रक्षा करेंगे

पोलैंड में रूसी मिसाइलों गिरने पर पेंटागन के प्रवक्ता ब्रिगेडियर जनरल पैट्रिक राइडर ने कहा कि हमें मिसाइलें गिरने की जानकारी है लेकिन इस रिपोर्ट की पुष्टि करने के लिए इस समय हमारे पास कोई जानकारी नहीं है. हमने इस घटना को गंभीरता से लिया है. जैसे ही हमारे पास कोई अपडेट आएगा, हम इसी सूचना दे देंगे. 

प्रवक्ता ने आगे कहा कि जब हमारी सुरक्षा प्रतिबद्धताओं और अनुच्छेद 5 (नाटो) की बात आती है तो हम बिल्कुल स्पष्ट हैं कि हम नाटो क्षेत्र के एक-एक इंच की रक्षा करेंगे.

घटना पर आगे की कार्रवाई पर हो रही बात

अमेरिकी विदेशी विभाग के प्रिंसिपल डिप्टी स्पोक्सपर्सन वेदांप पटेल ने कहा- हम नाटो सहयोगियों और साझेदारों के साथ खड़े हैं. हमने पोलैंड की रिपोर्ट देखी है, जो बेहद की चिंताजनक है.

उन्होंने आगे कहा- हम अधिक जानकारी जुटाने के लिए पोलैंड की सरकार और नाटो के सहयोगी देशों के साथ काम कर रहे हैं. हम तय करेंगे कि क्या हुआ और हमारा अगला कदम क्या होगा, इसे भी तय करेंगे.

यूरोपीय यूनियन ने साधा पोलैंड से संपर्क

यूरोपीय यूनियन के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल  ने पोलैंड में हुए विस्फोट को लेकर चिंता जाहिर की. उन्होंने कहा कि वह पोलैंड के इलाके में गिरी मिसाइल की चपेट में आने से लोगों के मारे जाने की खबर से स्तब्ध हैं. मिशेल ने कहा- वह पोलैंड की सरकार, यूरोपीय यूनियन के सदस्यों और अन्य सहयोगियों के संपर्क में है.

रूस ने किया खंडन, कहा- तूल दिया जा रहा

रूस के रक्षा मंत्रालय ने पोलैंड पर मिसाइलें गिरने की रिपोर्ट को गलत बताया है. उसने कहा कि तमाम टेंशन के बीच मामले को तूल देने के लिए ऐसी खबरें फैलाई जा रही हैं.

नाटो क्षेत्र में मिसाइल गिरने पर एक्शन जरूरी

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने पोलैंड में हुए विस्फोटों पर टिप्पणी की. उन्होंने कहा- आतंक हमारे राज्य की सीमाओं तक सीमित नहीं है. उन्होंने कहा कि नाटो क्षेत्र पर हमला एक बहुत ही गंभीर मामला है. इस पर कार्रवाई करना जरूरी है.

 



Source link

Spread the love