स्वीकार हुआ अखिलेश यादव और आजम खान का इस्तीफा – Akhilesh Yadav Azam Khan resignation accepted Samajwadi Party up elections 2022 NTC


स्टोरी हाइलाइट्स

  • अखिलेश और आजम खान ने सांसद पद छोड़ा
  • अखिलेश और आजम खान विधायक बने रहेंगे

अखिलेश यादव और आजम खान का इस्तीफा स्वीकार हो गया है. दोनों ने सांसद पद से मंगलवार को इस्तीफा दिया था. बता दें कि सपा अध्यक्ष अधिलेश यादव आजमगढ़ और आजम खान रामपुर से 2019 में लोकसभा चुनाव जीते थे, मंगलवार को दोनों ने सांसदी छोड़ दी. अब दोनों विधायक बने रहेंगे. आजम खान रामपुर और अखिलेश यादव करहल विधानसभा से 2022 का चुनाव जीते हैं.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इस बार विधानसभा चुनाव में करहल सीट से मैदान में उतरे थे. उन्होंने इस सीट से बीजेपी प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री एसपी बघेल को मात दी. हालांकि, अखिलेश यादव आजमगढ़ से मौजूदा सांसद थे. ऐसे में उन्हें एक सदन से इस्तीफा देना था. लोकसभा में सपा की 5 सीटें हैं. ऐसे में माना जा रहा था कि वे करहल सीट से इस्तीफा दे देंगे और लोकसभा के सदस्य बने रहेंगे. लेकिन अखिलेश यादव ने लोकसभा से इस्तीफा देकर सबको चौंका दिया.

यह भी पढ़ें – योगी आदित्यनाथ, अखिलेश और आजम खान… 24 घंटे में तीन इस्तीफे, जानिए क्या है वजह

जानकारों की मानें तो अखिलेश यादव 2027 के विधानसभा चुनाव पर फोकस कर रहे हैं. ऐसे में वे विधायक रहकर राज्य की राजनीति पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं. ताकि मौका मिलने पर वे योगी सरकार को घेर सकें और मजबूत विपक्ष के तौर पर पार्टी का नेतृत्व कर सकें.

आजम खान ने भी छोड़ी सांसदी

सपा नेता आजम खान ने भी अखिलेश यादव के साथ लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. वे रामपुर से लोकसभा सांसद थे. हालांकि, इस बार के विधानसभा चुनाव में वे रामपुर विधानसभा सीट से उतरे थे. इस सीट ने उन्हें फिर जीत मिली है. हालांकि, आजम खान ने विधानसभा में रहने का फैसला किया है. ऐसे में उन्होंने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया.

अखिलेश यादव और आजम खान के लोकसभा से इस्तीफों के बाद ये दोनों सीटें खाली हो गई हैं. 2024 लोकसभा चुनाव में काफी वक्त है, ऐसे में चुनाव आयोग इन सीटों पर चुनाव का ऐलान करेगा.

 



Source link

Spread the love