‘हमें ऐसे लोगों की जरूरत है जो बच्चों को कुरान पढ़ा सके’, जमीयत-ए-उलेमा हिंद के अध्यक्ष का बयान


‘हमें ऐसे लोगों की जरूरत है जो बच्चों को कुरान पढ़ा सके’, जमीयत-ए-उलेमा हिंद के अध्यक्ष का बयान

जमीयत-ए-उलेमा हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने ऐलान किया कि अब मदरसों के संचालन के लिए उन्हें किसी भी तरह की सरकारी मदद या दान की जरूरत नहीं है क्योंकि अगर कोई दान दिया जाता है तो फिर सरकार अपने नियम भी थोपेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें



Source link

Spread the love