Car Sales Navratri: इस नवरात्र पर ताबड़तोड़ बिकीं गाड़ियां, SUV की सेल में 70% का इजाफा – Vehicle sales record 57 percent growth during Navratri says FADA tutc


इस बार नवरात्र में वाहनों की बिक्री (Vehicle sales) के आंकड़ों ने ऑटो इंडस्ट्री को झूमने का मौका दे दिया है. फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (FADA) ने आंकड़े जारी कर दावा किया है कि इस बार के नवरात्र (Navratri) में वाहनों की बिक्री ने 2021 के मुकाबले 57 फीसदी की छलांग लगाई है. 

हर सेगमेंट में सेल बढ़ी
FADA के मुताबिक हर सेगमेंट में बिक्री में बढ़ोतरी दर्ज की गई है. टू-व्हीलर्स (Two-Wheelers) की बिक्री इस बार के नवरात्र में 52%, थ्री-व्हीलर्स (Three-Wheelers) की बिक्री 115%, कमर्शियल वाहनों की बिक्री 48%, पैसेंजर व्हीकल्स यानी कार-SUV की बिक्री 70% और ट्रैक्टरों की सेल्स में 58% का इजाफा इस बार के नवरात्र में दर्ज किया गया है.

प्री-कोविड नवरात्र से इतनी ज्यादा बिक्री
FADA की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस बार के नवरात्र में वाहनों की बिक्री कोरोना से पहले यानी 2019 के शारदीय नवरात्र से भी 16% ज्यादा रही है. अगर 2019 के शारदीय नवरात्र से तुलना की जाए तो इस बार के नवरात्र में टू-व्हीलर्स की बिक्री इस 4%, थ्री-व्हीलर्स की बिक्री 31%, कमर्शियल वाहनों की बिक्री 37%, पैसेंजर व्हीकल्स यानी कार-SUV की बिक्री 59% और ट्रैक्टरों की सेल्स में 90% का इजाफा दर्ज किया गया है.

टू-व्हीलर्स की बिक्री ने बढ़ाया हौसला
FADA के अध्यक्ष मनीष राज सिंघानिया के मुताबिक, नवरात्र में हुई रिटेल बिक्री से ये साफ पता चलता है कि 3 साल बाद ग्राहक शोरूम में वापस लौटे हैं. इस बार सबसे बेहतरीन आंकड़ा टू-व्हीलर्स की बिक्री का है. इनकी बिक्री बीते काफी समय से प्री-कोविड स्तर से कम थी. लेकिन इस बार नवरात्र में दोपहिया वाहनों की बिक्री में भी सिंगल डिजिट में ही सही लेकिन बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

बिक्री में तेजी जारी रहने की उम्मीद
इन आंकड़ों के सामने आने के बाद इस बात का भरोसा पुख्ता हो गया है कि इस बार के त्योहार में ये ट्रेंड जारी रहेगा. साथ ही कार उद्योग का 10 साल की सबसे ज्यादा बिक्री करने का अनुमान भी सटीक साबित हो सकता है.

सिंघानिया का कहना है कि हमें उम्मीद है कि ये ट्रेंड दिवाली तक इसी तरह जारी रहेगी इससे कार और SUV डीलर्स के साथ ही बाकी वाहन डीलर भी इस बार के फेस्टिव सीजन में बिक्री का 10 साल का उच्चतम स्तर देखेंगे. दोपहिया डीलर्स के लिए भी ये एक बेहतरीन मौका है और उन्हें अपने स्टॉक को समाप्त करने में ये मदद करेगा  जिसे उन्होंने एक अच्छे फेस्टिव सीजन की उम्मीद में जमा किया है.

रजिस्ट्रेशन के आंकड़ों से जमा किया डाटा
फाडा की इन बिक्री के आंकड़ों में आंध्र प्रदेश, मध्य प्रदेश, लक्षदीप और तेलंगाना का डेटा शामिल नहीं हैं. सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की मदद से अक्तूबर 2022 तक वाहनों का रिटेल डेटा जमा किया गया है और कुल 1411 आरटीओ में से 1339 का डेटा जमा करके ये रिपोर्ट जारी की गई है.

 



Source link

Spread the love