World Children’s Day 2022: जानें इस दिन क्यों मनाया जाता है विश्व बाल दिवस? पढ़ें इसके पीछे की कहानी – World Childrens Day 2022 Date history and importance


World Children’s Day 2022: भारत में हर साल 14 नवंबर को देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर बाल दिवस (Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है. लेकिन कम ही लोग जानते होंगे कि बाल दिवस केवल एक दिन या केवल भारत में ही नहीं मनाया जाता है. बल्कि इसे पूरे एक सप्ताह मनाया जाता है और दुनियाभर के कई देश इस दिन को सेलिब्रेट करते हैं. 14 नवंबर से 20 नवंबर तक बाल दिवस मनाया जाता है. 20 नवंबर को विश्व बाल दिवस (World Children’s Day) के रूप में मनाया जाता है.

दुनियाभर में बाल दिवस मनाने का मकसद सभी देशों में बच्चों की बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य और बेहतर भविष्य के लिए जागरूकता बढ़ाना है. यूनाइटेड नेशनंस जनरल असेंबली (UNGA) समेत कई अंतरराष्ट्रीय संगठन बच्चों के अधिकारों के लिए काम कर रहे हैं. यूनाइटेड नेशनंस इंटरनेशनल चिल्ड्रन्स इमरजेंसी फंड (UNICEF) भी बाल विकास और कल्याण की दिशा में काम कर रहा है.

विश्व बाल दिवस 2022 का इतिहास
20 नवंबर, यह तारीख उस दिन के लिए भी याद की जाती है जब यूनाइटेड नेशनंस जनरल असेंबली (UNGA) ने बाल अधिकारों की घोषणा की थी. विश्व बाल दिवस मनाने की शुरुआत 1954 में हुई थी, जब 20 नवंबर, 1954 को पहली बार यूनिवर्सल चिल्ड्रन्स डे (Universal Children’s Day) मनाया गया था. तब से, हर साल यह दिन मनाया जा रहा है. इसलिए 20 नवंबर, बाल अधिकारों पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन की वर्षगांठ भी है. इसलिए इस दिन को बाल दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया गया.

विश्व बाल दिवस 2022: थीम
विश्व बाल दिवस 2022 की थीम ‘इन्क्लूजन, फॉर एवरी चाइल्ड’ है. भारत में विश्व बाल दिवस के अवसर पर देश के प्रतिष्ठित भवनों जैसे राष्ट्रपति भवन, संसद भवन, राज्य विधानसभा भवनों और ऐतिहासिक स्मारकों को #GoBlue रोशनी से रोशन किया जाएगा.

 



Source link

Spread the love